You are here

देश के राष्ट्रवादी पत्रकार रोहित सरदाना ने भारत की सर्जिकल स्ट्राइक 2.0 पर लिखा धमाकेदार पोस्ट, बरखा सहित रवीश को अप्रत्यक्ष रूप से फटकार!

मित्रों आप लोगों का हमारे Namo fan Club न्‍यूज पोर्टल में स्‍वागत है। जैसा की आप सभी अवगत है कि भारतीय वायुसेना ने बीते मंगलवार तड़के 3.30 बजे POK के बालाकोट में मिराज-2000 लड़ाकू विमानों से हमला बोल दिया। इस दौरान 12 लड़ाकू विमानों से 1000 किलोग्राम के बम गिराये गये जिसमें कई आतंकी कैंपों को तबाह कर दिया गया। आपको बता दें कि देश के राष्‍ट्रवादी पत्रकार रोहित सरदाना ने भारत की सर्जिकल स्‍ट्राइक 2 पर लिखा धामेदार पोस्‍ट, बरखा सहित रवीश को अप्रत्‍यक्ष रूप से फटकार।
आपको बता दें कि इस हमले के भारत के पिदेश मंत्रालय ने बता दिया है कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्‍तान के बालाकोट में चल रहे आंतकी ठिकानों का नेस्‍तनाबूत कर दिये है। जिसमें 300 से अधिक आंतकियों की मारे जाने की खबर आ रही है। इस कूटनीति को सामान्य बोलचाल में समझिए तो – मारा भी है और रोने भी नहीं दिया, आतंकी ठिकानों में उसके सैनिक थे ये पाकिस्तान कभी क़ुबूल नहीं कर सकेगा। वहीं सांसद में में इमरान खान के खिलाफ लगे नारे OIC में सुषमा स्‍वराज को दिया न्‍यौता रद्द किये जाने की तानें, पाकिस्‍तानी फौजी आधिकारियों के सुबह से आ रह ट्विट ये बताने के लिये काफी है। कि चोट इस बार गहरी है, पर इसका जिम्‍मेदार भी तो पाकिस्‍तान खुद है।
आपकी जानकारी के लिये बता दें कि भारत कभी युद्ध का पक्षकार नही रहा है, पर पानी सर के ऊपर होने लगे तो कोई क्‍या करेंगा? भारतीय वायुसेना ने तो मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले के बाद भी ऐसी कार्यवही की पेशकश की थी, पर ऐसा हो ना सका। वैसे सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत की राजनीतिक पार्टियों के रवैए को देखते हुवे इस बार वायुसेना ने तसल्लीबख़्श काम किया, यहाँ कोई सबूत माँगने खड़ा हो उसके पहले ही पाकिस्तान की ओर से रोना चीख़ना मच गया कि हिंदुस्तान के लड़ाकू विमानों ने बम बरसाए हैं। हालांकि भारतीय वायुसेना की कार्यवाही पर हुये नुकसान पर भी पाकिस्‍तानी मीडिया लोगों में झूठी जानकारी देती हुई दिख रही है। हालांकि इस संबंध में रोहित सरदाना ने भारत की सर्जिकल स्‍ट्राइक 2 पर जबर्दस्‍त लेख लिखा है,जो कि हमने इस ट्विट के मध्‍यम से लिंक दिया हुआ है। जिसे देख आप लोग अपनी महत्‍वपूर्ण राय अवश्‍य लिखें।

Leave a Reply

Top